अपराजिता पाठ का प्रश्न उत्तर class 8 (aprajita path ke question answer class 8)

आप सभी का इस आर्टिकल में स्वागत है आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से अपराजिता पाठ का प्रश्न उत्तर class 8 (aprajita path ke question answer class 8) को पढ़ने जा रहे हैं। जो पश्चिम बंगाल के सरकारी विद्यालय के कक्षा 8 के पाठ 6 अपराजिता से लिया गया है। तो चलिए अपराजिता पाठ का प्रश्न उत्तर class 8 (aprajita path ke question answer class 8) को देखें-
अपराजिता पाठ का प्रश्न उत्तर class 8 (aprajita path ke question answer class 8)

वस्तुनिष्ठ प्रश्न

क) डॉ० चंद्रा का शरीर जन्म के कितने दिनों में पोलियो ग्रस्त हो गया?

उत्तर: अट्ठारहवें महीने

ख) किस वर्ष डॉक्टर चंद्र कॉल डॉक्टरेट की उपाधि मिली?

उत्तर: 1976

ग) डॉक्टर चंद्रा ने किस विषय में एमएससी पास किया?

उत्तर: प्राणी शास्त्र

घ) डॉक्टर चंद्रा ने कितने वर्षों में शोध कार्य पूरा किया?

उत्तर: पांच

ड़) डॉक्टर चंद्रा ने स्नातकोत्तर किस श्रेणी में पास की?

उत्तर: प्रथम

लघु उत्तरीय प्रश्न

क) लेखिका किस की जीवन से प्रभावित हुई?

उत्तर: लेखिका एक विलक्षण प्रतिभा संपन्न विकलांग लड़की डॉक्टर चंद्रा के जीवन से प्रभावित हुई।

ख) डॉक्टर चंद्रा कब पोलियो ग्रसित हुई?

उत्तर: डॉक्टर चंद्रा जन्म के अट्ठारहवें महीने में पोलियो ग्रसित हुई।

ग) डॉक्टर चंद्रा की मां का नाम लिखिए।

उत्तर: डॉक्टर चंद्रा की मां का नाम शारदा सुब्रमण्यम था।

घ) विज्ञान के अतिरिक्त डॉक्टर चंद्रा किन-किन कार्यों में दक्ष थी?

उत्तर: विज्ञान के अतिरिक्त डॉक्टर चंद्रा कविता लेखन, कढ़ाई-बुनाई, भारतीय एवं पाश्चात्य संगीत आदि कार्यो में दक्ष थे।

ड़) डॉक्टर मेरीवर्गीज कौन थी?

उत्तर: डॉक्टर मेरीवर्गीज एक अपंग डॉक्टर थी।

च) डॉक्टर चंद्रा ने अपनी मां का चित्र कहां लगा रखा था?

उत्तर: डॉक्टर चंद्रा ने अपनी मां का चित्र एलबम के अंतिम पृष्ठ पर लगा रखा था।

बोध मूलक प्रश्न

१. लेखिका का परिचय डॉक्टर चंद्रा से कब और कहां हुआ?

उत्तर: एक दिन जब लेखिका अपने बंगले के बाहर खड़ी थी तो उसने अपने पास वाली बंगले में से कार से उतरते एक ऐसे युवती को देखा। जो अपने निर्जीव निचले धड़ को बिना किसी के सहारे बड़ी दक्षता से नीचे उतारते और बैसाखियों से व्हीलचेयर तक पहुंचकर उसमें बैठकर बड़ी तटस्थता से उसे स्वयं चलाती अपने कोटे के भीतर जाते देखा। उसे देखकर लेखिका को आश्चर्य हुआ और धीरे-धीरे लेखिका का उससे परिचय हो गया।

२. डॉक्टर चंद्रा को मेडिकल में प्रवेश क्यों नहीं मिला?

उत्तर: डॉक्टर चंद्रा को मेडिकल में प्रवेश उनकी अपंगता के कारण नहीं मिला।

३. चंद्रा की मां को चंद्रा के शिक्षा प्राप्ति में किन-किन कठिनाइयों का सामना करना पड़ा?

उत्तर: डॉक्टर चंद्रा की मां को चंद्रा की शिक्षा प्राप्ति के लिए 25 वर्ष की घोर साधना करनी पड़ी। जब चंद्रा 5 वर्ष की थी तो उसकी मां स्वयं उसकी स्कूल बनी फिर आगे की पढ़ाई के लिए प्रसिद्ध माउंट कारमेल के कॉन्वेंट द्वार पर लगातार धरना देने के बाद चंद्रा को वहां दाखिला दिलाया और पूरी कक्षाओं में वह अपनी अपंग पुत्री की कुर्सी की परिक्रमा कराती और पीरियड दर पीरियड उसके पीछे खड़ी रहती थी।

४. वीर जननी का पुरस्कार किसे और क्यों दिया गया?

उत्तर: वीर जननी का पुरस्कार चन्द्रा की मां शारदा सुब्रमण्यम को दिया गया क्योंकि उन्होंने बेटी के सुख के लिए अपना समस्त सुख त्याग कर अपने बेटी की परछाई और पहिया लगी कुर्सी के पीछे ढाल बनकर खड़ी रही और अपनी बेटी की सारे सपनों को पूरा किया।

५. डॉक्टर चंद्रा के विषय में उनके प्रोफेसर का क्या विचार है?

उत्तर: डॉक्टर चंद्रा के विषय में उनके प्रोफ़ेसर का विचार है कि उन्हें यह कहने में रंचमात्र भी हिचकिचाहट नहीं है कि डॉक्टर चंद्रा ने विज्ञान की प्रगति में महान योगदान दिया है।

६. लेखिका अपनी यह रचना किसे और क्यों पढ़ने के लिए कह रही है?

उत्तर: लेखिका अपनी यह रचना घोर निराशा में डूबे लखनऊ की एक मेधावी युवक को पढ़ने के लिए कहती है जब वह युवक आई.ए.एस. की परीक्षा देकर ट्रेन से अपने घर लौट रहे थे तो किसी स्टेशन पर जब ट्रेन रुकी तो वह चाय लेने के लिए नीचे उतरता है। तभी ट्रेन चलने लगती है। वह अपने हाथों में चाय लेकर चलती ट्रेन में चढ़ने का प्रयास करता है तभी उनकी हाथ छूट जाता हैं और वह गिर पड़ता है, फिर पहिए के नीचे हाथ पड़ जाने से उसका दाया हाथ कट जाता है। इसी हादसे से वे अपना मानसिक संतुलन खो बैठते हैं और वह घोर निराशा के अंधकार में डूब जाते हैं। उसी घोर निराशा से बाहर निकालने के लिए लेखिका उन्हें यह रचना पढ़ने के लिए कहती है। ताकि उन्हें इस रचना से प्रेरणा मिल सके और वे अपने जीवन में आगे बढ़ सके।

७. डॉक्टर चंद्रा का चरित्र चित्रण कीजिए?

उत्तर: डॉक्टर चंद्रा अपराजिता पाठ के मुख्य पात्र है, जिस के चरित्र में हमें निम्नलिखित विशेषताएं देखने को मिलती है-
i) डॉक्टर चंद्रा एक विलक्षण प्रतिभा संपन्न लड़की है जिसमें अदम्य साहस और दृढ संकल्प है।
ii) वह एक विलक्षण बुद्धि की धनी भी है।
iii) वह विधाता के कठोर आघात को बड़े धैर्य और साहस के साथ जुड़ने वाली संघर्षशील महिला है।
iv) वह डॉक्टरेट पाने वाली प्रथम अपंग भारतीय है।
v) वह बहुमुखी प्रतिभा की धनी भी है। उन्हें कविता लेखन, कढ़ाई-बुनाई, भारतीय और पाश्चात्य संगीत आदि कार्य में भी विशेष रूचि है।
vi) डॉक्टर चंद्रा अपने पूरे जीवन में कभी भी निराश नहीं हुई वह अपने दम पर वह सब कुछ करके दिखाया जो एक साधारण व्यक्ति नहीं कर सकता है।
vii) चंद्रा की विज्ञान की प्रगति में महान योगदान है।

८. चिकित्सा ने जो खोया वह विज्ञान ने पाया उक्त गद्यांश का आशय स्पष्ट कीजिए।

उत्तर: उपर्युक्त गद्यांश का आशय है कि विलक्षण प्रतिभा की धनी डॉक्टर चंद्रा को चिकित्सा के क्षेत्र में उनकी विकलांगता के कारण प्रवेश नहीं मिल पाया पर जिस प्रतिभा को चिकित्सा ने खोया उस प्रतिभा से विज्ञान ने तरक्की की। अतः डॉक्टर चंद्रा ने अपनी प्रतिभा से विज्ञान की प्रगति की।

भाषा बोध:

१. इस पाठ से पांच तत्सम शब्द चुनकर उसके तद्भव शब्द लिखिए।

उत्तर:.              तत्सम               तद्भाव

                       विशिष्ट               विशेष

                       नियति                भाग्य

                        विषाद               दुःख

                       आघात               चोट

                        विपत्ति             मुसीबत

२. निम्नलिखित शब्दों के उपसर्ग अलग कीजिए-

उत्तर:
       शब्द            उपसर्ग         मूल शब्द

    अमानवीय          अ       +     मानवीय

     प्रसिद्ध              प्र        +       सिद्ध

     उल्लास           उत्       +       लास

      विज्ञान             वि       +       ज्ञान

      प्रगति             प्र         +        गति

      अवरुद्ध          अव       +         रुद्ध

३. निम्नलिखित शब्दों का विलोम शब्द लिखिए


उत्तर:
३.१. पिछली - अगली

३.२. निर्जीव - सजीव

३.३. उजले - मैले

३.४. साहसी - डरपोक

३.५. अभिशाप - वरदान

३.६.  इच्छा - अनिच्छा

३.७.  सर्वोच्च - सर्वनिम्न

४. संज्ञा और दूसरे विकारी शब्दों के संख्या गिनती का जिससे बोध होता है, उसे वचन कहते हैं। ये दो प्रकार के होते हैं- i. एकवचन ii. बहुवचन

निम्नलिखित शब्दों के वचन परिवर्तन कीजिए-

उत्तर: 
४.१. कोठी - कोठियां

४.२. वैशाखियों - वैशाखी

४.३. वस्त्र - वस्त्र

४.४. पंक्तियों - पंक्ति

४.५. महत्वाकांक्षाएं - महत्वाकांक्षा 

४.६. टांगो - टांग

४.७. स्त्री - स्त्रियां

४.८. पुरुष - पुरूष

४.९. लड़की - लड़कियां

४.१०. कठिन - कठिन

४.११. वर्ष - वर्ष

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.